Merry Christmas Poems In Hindi

Merry Christmas Visitors! Are you indeed of Merry Christmas Poems In Hindi? Awesome than you are on right place because here we made this article which suits your search. Everyone knows that Christmas cards, poems always very special and attractive and during the Christmas some people always prefer to Christmas poems for cards when they need to wish others. This year we are bringing a huge collection of best and unique Xmas day cards poems.

Merry Christmas Poems In Hindi

Best Free Merry Christmas Poems In Hindi

Best Free Merry Christmas Poems In Hindi

क्रिस्मस है आया
ढेरों खुशियाँ संग लाया
चारों तरफ है सितारों की चमक
है संग सांता क्लॉस की दमक
चॉक्लेट कैंडी की है छाई बहार
खिलौनों और कपड़ों से हैं सजे बाज़ार
चर्च में हैं कैरल गाये जा रहे
जीसस का जन्मदिन सब हैं माना रहे
इस बड़े दिन मुझको भी कुछ बतलाना है
तुम संग प्यार को निभाना है
खुश तुम रहो यूँ ही हमेशा
तुमको क्रिस्मस की बहुत बधाई
Best Hd Free Merry Christmas Poems In Hindi

Best Hd Free Merry Christmas Poems In Hindi

कुहरे ने जब चादर तानी
उतरा करने पर मनमानी
सूरज ने उसको फटकारा
खोला अपना भरा पिटारा
पूँछ छिपाकर भागा ऐसे
चूहा देखी बिल्ली जैसे
खुश हो बच्चे बजाय ताली
मिली मिठाई भरकर थाली
आज ही भैया क्रशमस आया
खुशियों से भर झोली लाया
Happy Merry Christmas Poems In Hindi

Happy Merry Christmas Poems In Hindi

छोटे से टोनी ने अपना,
अभिनव रूप सजाया।
सैन्टाक्लाज सरीखा उसने,
अपना वेश बनाया।।
कपड़े पहने लाल रंग के,
श्वेत धारियोंवाले।
और लगाया टोपा,
जिसमें, फुँदने लगे निराले।।
दादी-मूँछ सफेद लगा कर,
बना बड़ा अलबेला।
इसके बाद सड़क पर आया,
देख शाम की बेला।।
उसकी जेबें भरी हुर्इ थीं,
चाकलेट से सारी।
और छुपा ली थीं उसने कुछ,
चीजें प्यारी-प्यारी।।
देखा जैसे ही बच्चों ने,
उसके पीछे भागे।
लड़ने लगे सभी आपस में,
कैसे पहुँचे आगे।।
सैन्टाक्लाज बने टोनी ने,
बच्चों को समझाया।
झगड़ा छोड़ो, रहो प्यार से,
ऐसा पाठ पढ़ाया।।
उसकी मीठी-मीठी वाणी,
सब बच्चों को भार्इ।
खड़े हो गये उसे घेर कर,
छोड़ी तुरत लड़ार्इ ।।
सैन्टा बने हुए टोनी ने,
फिर उपहार निकाले।
और दिए सारे बच्चों को,
गोरे हों या काले।।
देकर के उपहार सभी को,
चला सैन्टा आगे।
खुशियाँ बाँट रहा बच्चों को,
जिससे किस्मत जागे।।
प्रभु र्इसा के सच्चे सेवक,
सीख हमें सिखलाते।
प्यार करो बच्चों से यदि तुम,
प्रभु तुमको मिल जाते।।
Merry Christmas Poems In Hindi Free Download

Merry Christmas Poems In Hindi Free Download

जीवन के हर मोड़ पर
अभावों में जो
पलते रहे हैं
सपने जिनकी आंखों में
भरने से पहले
तिड़कते रहे हैं
आओ थोड़ा ध्यान दें
तोहफों से भर दें
उनके जीवन में रस
मनाएं इस बार
ईसा के संदेश को महकाता
कुछ इस तरह क्रिसमस।
– डॉ. सेवा नंदवाल
Merry Christmas Poems In Hindi

Merry Christmas Poems In Hindi

छुटि्टयों का मौसम है
त्योहार की तैयारी है
रौशन हैं इमारतें
जैसे जन्नत पधारी है
कड़ाके की ठंड है
और बादल भी भारी है
बावजूद इसके लोगों में जोश है
और बच्चे मार रहे किलकारी हैं
यहाँ तक कि पतझड़ की पत्तियाँ भी
लग रही सबको प्यारी हैं
दे रहे हैं वो भी दान
जो धन के पुजारी हैं।
खुश हैं ख़रीदार
और व्यस्त व्यापारी हैं
खुशहाल हैं दोनों
जबकि दोनों ही उधारी हैं
भूल गई यीशु का जनम
ये दुनिया संसारी है
भाग रही है उसके पीछे
जिसे हो हो हो की बीमारी है
लाल सूट और सफ़ेद दाढ़ी
क्या शान से सँवारी है
मिलता है वो मॉल में
पक्का बाज़ारी है
बच्चे हैं उसके दीवाने
जैसे जादू की पिटारी है
झूम रहे हैं जम्हूरे वैसे
जैसे झूमता मदारी हैं
– राहुल उपाध्याय
Merry Xmas Poems In Hindi

Merry Xmas Poems In Hindi

 

Printable Merry Christmas Poems In Hindi

Printable Merry Christmas Poems In Hindi

बडे. दिनों के बाद , बडा दिन क्यों आता हेै
दिनों के घटने बढ़ने से किसका नाता है
केवल अंग्रेजी स्कूलों में क्रिसमस – डे जारी
सेन्टा – क्लाउस दानी था, क्यों शिक्षा व्यापारी
अब तक सेन्टा-क्लाउस से किसने क्या सीखा
क्या भारत में क्रिसमस – डे जैसा कुछ दिखा
धर्म, मजहब के झगडे, घर – घर में जारी हैं
हर सम्प्रदाय में कौम, कबीले क्यों भारी हैं
सेन्टा-क्लाउस ने बच्चो में प्यार ही बाँटा
भेद – भाव से हमने हरदम शैशव को काटा
दुनिया में ये कैसा क्रिसमस – डे है भाई
बदल रहे हैं हिन्दू, मुस्लिम, सिक्ख, इसाई
गुलदस्ते हाथ में लेकर बच्चे भाग रहे हैं
अब अंग्रेजी संस्कार वतन में जाग रहे हैं
हर नये वर्ष में दारू और अय्यासी जारी
इस भारत में शिक्षा – दीक्षा कैसी न्यारी
अच्छा होता क्रिसमस – डे हर कौम मनाती
दो वक्त की रोटी हर गरीब के घर मे आती
सेन्टा-क्लाउस बन कर , बच्चों को बहलाते
धर्म, मजहब से उपर उठ कर बच्चे आते
ये कौम कबीले, सभी सुरीले सुर में गाते
एक मजहब सब मिलकर हिन्दुस्तान बनाते
ईसा, मूसा, राम, कृष्ण सब एक ही होते
इस आतंकवाद को देख मुहम्मद भी ना रोते
त्यौहार कोई भी बूरा नही है हृदय शुद्व हो
हर बच्चों में राम, कृष्ण, महावीर, बुद्व हो
हर कौमो से सेन्टा-क्लाउस निकल के आएं
कवि आग भी क्रिसमस – डे से भारत गायें।।
– राजेन्द्र प्रसाद बहुगुणा(आग)
Top 10 Merry Christmas Poems In Hindi

Top 10 Merry Christmas Poems In Hindi

Thank you for visiting my blog, I hope you like our collection on Merry Christmas Poems In Hindi. You can download these pictures for absolutely free. Do not forget to share these Christmas Pics on social media like Facebook, Twitter, Google+with You Friends. Bookmark us and stay connected for Christmas Stuff Like Handmade Cards, Best Saying Lines For Ecards & lot’s more for Christmas Celebration.

 

Leave a Reply